ताज़ादुनियान्यूज़राष्ट्रीय

एनआइए ने एक करोड़ के इनामी सहित 19 माओवादियों पर दर्ज की चार्जशीट

एनआइए ने एक करोड़ के इनामी सहित 19 माओवादियों पर दर्ज की चार्जशीट

पश्चिमी सिंहभूम जिले के टोकलो थाना क्षेत्र स्थित लांजी पहाड़ी पर चार मार्च को माओवादियों ने किया था डायरेक्शनल बम से हमला, तीन जवान हुए थे शहीद

चार्जशीटेड 19 माओवादियों में चार हो चुके हैं गिरफ्तार, 15 माओवादी अब भी हैं फरार

रांची,(झारखंड):पश्चिमी सिंहभूम जिले के टोकलो थाना क्षेत्र स्थित लांजी पहाड़ी पर चार मार्च को माओवादियों के डायरेक्शनल बम के हमले में तीन जवानों की शहादत व एक जवान के जख्मी होने के मामले का अनुसंधान कर रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) ने मंगलवार को 19 माओवादियों पर आरोप पत्र दाखिल की है। रांची स्थित एनआइए की विशेष अदालत में एनआइए ने चार गिरफ्तार व 15 फरार माओवादियों को आरोपित करते हुए चार्जशीट दाखिल की है। जिनपर चार्जशीट की गई है, उनमें एक करोड़ का इनामी माओवादियों का सेंट्रल कमेटी सदस्य अनल दा उर्फ पतिराम मांझी व दस लाख का इनामी महाराज प्रमाणिक भी शामिल हैं।
गौरतलब है कि चार मार्च को पश्चिमी सिंहभूम पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि टोकलो थाना क्षेत्र के लांजी पहाड़ी पर माओवादियों का दस्ता सक्रिय है। इसी सूचना पर गई पुलिस पर माओवादियों ने डायरेक्शनल बम से हमला कर दिया था, जिसमें तीन जवान शहीद हुए थे और एक जवान जख्मी हो गया था। शहीद जवानों में झारखंड जगुआर के सिपाही हरिद्वार साह, किरण सुरीन व हवलदार देवेंद्र कुमार पंडित शामिल थे।पुलिस की छापेमारी में तीन फीट लंबा लोहे का पाइप, रबर ट्यूब, बिजली का तार व लोहे के स्पिलिंटर बरामद हुआ था। केंद्र सरकार के निर्देश पर राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने इस केस को टेकओवर किया था।

एनआइए की अनुसंधान में जो निकला

एनआइए की अनुसंधान में यह बात सामने आई है कि गिरफ्तार आरोपित रामराई हांसदा लांजी क्षेत्र में सक्रिय बड़े माओवादियों के संपर्क में था। माओवादियों के बड़े कमांडर के निर्देश पर रामराई हासंदा ने अपने अन्य सहयोगी नेल्शन कंडीर, सोर्तो महली व मंगल मुंडा के साथ मिलकर सुरक्षाबलों पर बड़े हमले की योजना बनाई और लोकेशन तय किया। आरोपित अनल दा, महाराज प्रमाणिक, अप्तान मांझी, चंपा, भुवनेश्वर, मेरिना सिरका, रिला माला, सूरज सरदार, सुनीता सरिता, गीता, मंगल मुंडा और अमित मुंडा के सशस्त्र दस्ते ने लांजी में उक्त घटना को अंजाम दिया। फरार सुली कंडीर और सावन टूटी भी साथ में शामिल रहे और इसके लिए बड़े नक्सलियों को फंड व सामान एकत्रित उपलब्ध कराया था। वे इस ब्लास्ट के साजिश में शामिल रहे।

एनआइए ने इनपर दर्ज की है चार्जशीट
चार गिरफ्तार आरोपित :-

रामराई हांसदा (लांजी, टोक्लो, पश्चिमी सिंहभूम), नेल्शन कंडीर (जाेंबरोटोला, जंबिराबेड़ा, कुचाई, सरायकेला-खरसांवा), सोर्तो महली उर्फ सोर्तो उर्फ डॉन उर्फ राबा माली उर्फ दीपक (हरजोरा, टोक्लो, पश्चिमी सिंहभूम) तथा मंगल मुंडा (चिपिबंडीह टोला, जिलिंगपीरी, तमाड़, रांची)।

15 फरार आरोपित :

अनल दा उर्फ तूफान उर्फ पतिराम मांझी (झरहाबाले, पीरटांड, गिरिडीह। सेंट्रल कमेटी सदस्य, एक करोड़ का इनामी), महाराज प्रमाणिक उर्फ राज प्रमाणिक (दोरडा, इचागढ़, सरायकेला-खरसांवा। जोनल कमांडर, दस लाख रुपये का इनामी), आपतान मांझी (बोकारो), चंपा उर्फ रेणुका (रघुरामबेड़ा, गुदड़ी, पश्चिमी सिंहभूम), भुनेश्वर उर्फ सलुका कायम उर्फ मारू उर्फ विक्रम कायम (कुदाबुरू, सोनुआ, पश्चिमी सिंहभूम), मेरिना सिरका (पोखरिया, पश्चिमी सिंहभूम), रिला माला (जामाओबोरा, गोमिया, बोकारो), सूरज सरदार उर्फ गाजू सरदार (रायजामा, खरसांवा, सरायकेला-खरसांवा), सुनीता उर्फ बारी (कुचाई, सरायकेला-खरसांवा), सरिता (कुचाई, सरायकेला-खरसांवा), गीता उर्फ गांगुली उर्फ रायमुनी (बेलाबेड़ा, कुचाई, सरायकेला-खरसांवा), मंगल मुंडा उर्फ पांडेय (जोंबरो, कुचाई, सरायकेला-खरसांवा), सुली कंडीर (कुचाई, सरायकेला-खरसांवा), सावन टुटी (कुचाई, सरायकेला) व अमित मुंडा (तमराना, तमाड़, रांची)।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker