ताज़ान्यूज़शिक्षा

डोरंडा में चला नशा विरोधी जागरूकता अभियान, लोगों को दिया गया नशा मुक्ति का संदेश

– नशा मुक्ति अभियान के समर्थन में लोगों ने बनाई मानव श्रृंखला
– हाथों में स्लोगन लिखे तख्ती लिए लोगों ने की नशा छोड़ने की अपील

रांची (झारखण्ड) : नशा मुक्त जागरूकता अभियान के तहत झारखंड प्रदेश जमीयतुल कुरैश ने कोरोना की रोकथाम के लिए बनाई गई नियामावाली का पालन करते हुए समाजसेवी एवं वरिष्ठ लोगों के साथ मिलकर डोरंडा के युनूस चौक में नशा मुक्ति अभियान की शुरुआत की। इसके तहत लोगों ने तख्ती लेकर नशा‌ से दूर रहने की अपील की। इसके बाद लोगों ने नशा के विरोध में अभियान के समर्थन में मानव श्रृंखला बनाई और इस बुराई से स्वयं एवं परिवार व समाज को बचाने के लिए आगे आकर समर्थन किया।

मानव श्रृंखला में शामिल लोग हाथों में तख्ती लिए थे। इस पर लिखा था- आज शराब तुम पिओगे कल शराब तुमको पिएगी, नशा है अपमान का भागीदार, छोड़ो नशा बनो सम्मान के भागीदार, समाज को बचाना है नशे को बंद कराना है, अपना नहीं तो परिवार का ख्याल करो नशा छोड़ो। साथ ही नशा से होने वाली हानि लिखा पर्चा भी बांटा गया। क्षेत्र के लोगों ने इसे नेक पहल बताया है। इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष मुजीब कुरैशी ने कहा समाज कि बिगड़ती हालत का सबसे बड़ा जिम्मेदार नशा खुरानी है। इसीलिए झारखंड प्रदेश जमीयतुल कुरैश विभिन्न समाजिक संगठन एवं पंचायत तंजीम के पदाधिकारियों के साथ मिलकर रांची के विभिन्न क्षेत्रों में व्यापक रूप से अभियान चलाया जा रहा है। नशा मुक्त रांची बनाने का प्रयास किया जा रहे है।

मौके पर समाज सेवी इमरान रजा अंसारी ने कहा कि डोरंडा क्षेत्र के हर मोहल्ले में नशा के विरोध में अभियान चलाया जाएगा और लोगो को नशा से होने वाले नुकसान के बारे में बताया जाएगा। ताकि समाज में फैली बीमारी खत्म हो। मौके पर पूर्व पार्षद संजू सलाउद्दीन ने कहा कि नशे के कारण ज्यादा तर अपराध को बढ़ावा मिल रहा है। इसलिए लोग गंभीर होकर इस अभियान में समर्थन दे रहे हैं। वरिष्ठ समाजसेवी हाजी अख्तर अंसारी ने कहा कि बच्चों का भविष्य बनाने के लिए समाज में नशा से सुधार जरूरी है। अंजुमन इस्लामिया रांची के उपाध्यक्ष मंजर इमाम ने कहा कि नशे से हर जाति धर्म के लोग त्रस्त हैं। इसलिए सभी समाज के लोगों को आगे आने कि जरुरत है। वहीं समाजसेवी डाॅ असलम परवेज ने कहा कि प्रदेश जमीयतुल कुरैश की पहल तारीफ के काबिल है। हम सब मिलकर इस बुराई से समाज में सुधार लाएंगे। समाजसेवी नईम आलम ने कहा कि समाज की अच्छाई के लिए चलने वाले किसी भी अभियान में उनका पूरा सहयोग रहेगा।

इस अवसर पर मुख्य रूप से गुलाम जावेद, मो अकबर, हाजी मंसूर, इरफान कुरैशी, तस्लीम अंसारी, सईद, नूर मोहम्मद, फिरोज रिजवी, एसएम मोईन, असलम खान, शकील अंसारी, मोख्तार अंसारी, राणा जफर, मो इमरान (सोनू), नजीबुल्लाह खान, मंसूर कुरैशी, फैज कुरैशी, अफजल अंसारी, सलाउद्दीन अंसारी, मुख्तार अंसारी, सऊद आलम, शकील अंसारी, चांद मखदुमी, मो. नौशाद, मो. फजल, शाकिब जिया , सज्जाद कुरैशी नेसार कुरैशी, फिरोज कुरैशी, सोनू कुरैशी, राजू खान, गुलाम गौस कुरैशी, हसीब खान, मुस्तफा, युनूस, शमीम, रऊफ अंसारी, सद्दाम कुरैशी, सज्जाद मल्लिक, आशिफ कुरैशी, औरंगजेब खान, वारिस कुरैशी, आमिर कुरैशी, जावेद कुरैशी, अजरुददीन कुरैशी, कोलहा कुरैशी, नकीम कुरैशी अन्य लोग उपस्थित थे।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker