ताज़ान्यूज़राष्ट्रीय

पलामू : अशोका बिल्डकॉन कंपनी के सिविल इंजीनियर को अपराधियों ने मारी गोली, कई राउंड हवाई फायरिंग भी की

दो माह पूर्व भी इसी कंपनी के सोनवर्षा कैंप पर अपराधियों ने दिनदहाड़े फायरिंग की थी

पलामू (झारखण्ड) : पलामू जिले से होकर तीसरी रेलवे लाइन बिछा रही अशोका बिल्डकॉन के सिविल इंजीनियर विरेन्द्र कुमार को मंगलवार की दोपहर अपराधियों ने गोली मार दी. इंजीनियर को बेहतर इलाज के लिए हुसैनाबाद अनुमंडल अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहाँ से घायल को प्राथमिक उपचार के बाद मेदिनीनगर एमएमसीएच में रेफर कर दिया गया है. इंजीनियर को पैर सहित शरीर के अन्य हिस्से में गोली मारी गयी है. अपराधियों ने मौके पर दशहत फैलाने के लिए तीन से चार राउंड हवा में भी गोलियां चलायी है. विदित हो कि दो माह पूर्व अशोक बिल्डकॉन कंपनी के मोहम्मदगंज के सोनवर्षा स्थित कैंप कार्यालय में अपराधियों ने दिनदहाड़े ताबड़तोड़ फायरिंग की थी. इस घटना में एक कर्मी को गोली लगी थी. हालांकि इलाज के बाद कर्मी ठीक है. इस घटना को रंगदारी के लिए अमन साहू गैंग के गुर्गो ने अंजाम दिया था.

हैदरनगर के सिमरसोत में हुई घटना

घटना पलामू जिले के हैदरनगर थाना क्षेत्र के सिमरसोत गांव के समीप कुकही नदी के समीप जपला-हैदरनगर रेलवे स्टेशन के बीच मेजर ब्रिज संख्या 109 के पास रेलवे पोल संख्या 362/01 के पास हुई. थर्ड लाइन के पुल निर्माण के लिए सिविल इंजीनियर विरेन्द्र कुमार साथी कर्मियों के साथ रेलवे ड्रेन का काम कर रहे थे. इसी बीच एक पल्सर बाइक से दो अपराधी वहां पहुंचे और जमीन पर बैठे इंजीनियर को पैर सहित अन्य जगहों पर गोली मार दी. साथ ही कर्मियों में दहशत फैलाने के लिए 3 से 4 राउंड हवा में गोलियां चलायी. घटना के बाद मौके पर अफरातफरी मच गयी.
घटना के बाद आनन फानन में साथी कर्मियों ने सिविल इंजीनियर विरेन्द्र कुमार को हुसैनाबाद अनुमंडल अस्पताल में भर्ती कराया. गोली इंजीनियर को बांये पैर, कमर सहित तीन जगह लगी है. हुसैनाबाद एसडीपीओ पूज्य प्रकाश, हुसैनाबाद व हैदरनगर थाना पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की छानबीन में जुटी है. घटना के पीछे के कारण और किस गैंग का इसमें हाथ है, यह अबतक स्पष्ट नहीं हो पाया है.

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker