ताज़ादुनियान्यूज़बिज़नेसराष्ट्रीय

भारत में कोयला और मिथेन गैस उत्पादन बढ़ाने के लिए आस्ट्रेलिया कर रहा विचार

बीसीसीएल के झरिया क्षेत्र में कोल बेड मिथेन का अकूत भंडार है
धनबाद, बोकारो, आसनसोल, रानीगंज क्षेत्र के प्रोजेक्ट पर हो रहा काम

धनबाद,(झारखण्ड):भारत सरकार देश में कोयला व मिथेन गैस उत्पादन को बढ़ाने के लिए आस्ट्रेलियाई कंपनी से सहयोग लेने पर विचार कर रही है. इसी कड़ी में कोयला मंत्रालय ने पिछले दिनों आस्ट्रेलिया के पूर्व प्रधानमंत्री और विशेष व्यापार दूत टोनी ऐबट के नेतृत्व में आई टीम के साथ व्यापारिक और आर्थिक रिश्ते बढ़ाने पर बातचीत की। कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी ने खासतौर से ऊर्जा सेक्टर में गतिविधियों को बढ़ाने पर विस्तार से चर्चा की। सूत्रों ने कहा कि बिजली से चलने वाले वाहनों के लिए जो कारगर और जरूरी खनिज हैं, वे सब आस्ट्रेलिया में उपलब्ध हैं तथा भारत में बिजली वाहनों के निर्माण के लिए आस्ट्रेलिया अहम भूमिका निभा सकता है। दोनों देश के बीच इस मुद्दों पर बातचीत जारी है. अगर यह बातचीत सफल हो जाती है तो करार होने की संभावना है।

पिछले दिनों इन्हीं मुद्दों पर कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी, कोयला सचिव अनिल जैन व आस्ट्रेलिया प्रतिनिधियों के साथ बातचीत हुई है। मौके पर कोयला मंत्रालय के सचिव डा. अनिल कुमार जैन, खान मंत्रालय के सचिव आलोक टंडन आदि मौजूद थे। ज्ञात हो कि कोल इंडिया भी इस दिशा में वर्क प्लान पर काम कर रही है। ऊपरी सतह व गहराई में मौजूद कोयले को गैस में बदलकर मिथेन गैस को बाहर लाने तथा कोयले की सतह पर प्राकृतिक रूप से उत्पन्न मिथेन गैस आदि को निकालने के लिए ऑस्ट्रेलिया सहयोग करने पर विचार कर रहा है।

इससे कोयला मंत्रालय को कोल इंडिया की बीसीसीएल व ईसीएल में शुरू होने वाली कोल बेड मिथेन व कोल माइन मिथेन प्रोजेक्ट चालू करने में काफी सहयोग मिलेगा। बता दें कि भारत की ऊर्जा जरूरतों को पूरा करने तथा भारत की महत्वाकांक्षी नीतिगत एजेंडा के समर्थन में आस्ट्रेलिया के संसाधनों का इस्तेमाल शामिल था। बीसीसीएल के झरिया क्षेत्र में काफी कोल बेड मिथेन का भंडार है, जिसपर दोहन को लेकर काम किया जा रहा है। इसमें आसनसोल, रानीगंज, बोकारो, धनबाद के क्षेत्र में प्रोजेक्ट प्लान शामिल हैं.

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker