ताज़ान्यूज़

भुरकुंडा के वनरक्षी का शव घर से बरामद, पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजा गया

4 महीने पहले हुई थी शादी, मृतक को थी थाईरोइड और हार्ट की बीमारी

रामगढ़ (झारखण्ड) : रामगढ़ जिले के भुरकुंडा वन क्षेत्र के स्थायी पौधशाला में कार्यरत वनरक्षी संतोष कुमार शनिवार की सुबह अपने कमरे में मृत पाए गए। पौधशाला में कार्यरत उनके साथी वनरक्षी संतोष कुमार शर्मा ने बताया कि शनिवार सुबह उनके मोबाइल पर संतोष कुमार के घरवालों ने फ़ोन करके बताया कि संतोष कुमार काफी देर से फ़ोन नही उठा रहे है। इसके बाद वनरक्षी संतोष कुमार शर्मा ने संतोष कुमार के रूम में जाकर काफी देर तक आवाज लगाई. उसके बाद भी कुछ जवाब नही मिलने पर उन्होंने फोरेस्टर प्रदीप साहू, मुखिया प्रदीप मांझी और भुरकुंडा पुलिस को इसकी सूचना दी।

मौके पर पुलिस ने पहुंचकर पौधशाला में ही कार्यरत मजदूरों की मदद से दरवाजे को तोड़ा, जहां संतोष कुमार अपने बेड पर पड़े हुए थे। इसके बाद आनन-फानन में उन्हें भुरकुंडा हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। बताया जाता है कि संतोष कुमार कुछ वक्त से बीमार चल रहे थे. उन्हें थाईरोइड और दिल की बीमारी थी। उसका इलाज चल रहा था।

बता दें कि संतोष कुमार चैनपुर बड़गांव के रहने वाले थे। वे 2018 को भुरकुंडा उप परिसर में कार्यरत हुए थे। उनकी 4 महीने पहले ही शादी हुई थी। उनके घरवालों को खबर कर दी गयी है और वे भुरकुंडा पहुंच गए है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये रामगढ़ सदर अस्पताल भेज दिया है।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker