ताज़ादुनियान्यूज़राष्ट्रीय

रेलवे वैगन से कोयला उतारते सात धराए,रेल न्यायालय अग्रसारित

रेलवे वैगन से कोयला उतारते सात धराए, रेल न्यायालय अग्रसारित
टोरी-महुआमिलान के बीच पोल संख्या 182-183 के बीच रेलवे वैगन से कोयला उतारकर बेचने की थी तैयारी

चंदवा (लातेहार): बरकाकाना-बरवाडीह रेलखंड के टोरी जंक्शन पर तैनात अभियान पर निकली आरपीएफ की टीम ने रेलवे वैगन से कोयला उतारते और समेटते सात लोगों को दबोच लिया। इस संबंध में आरपीएफ इंसपेक्टर केएन तिवारी ने बताया कि सूचना मिली कि रात के अंधेरे में टोरी-महुआमिलान स्टेशन के बीच कुछ कोयला चोर सक्रिय हैं। इसी सूचना पर एसआई मणिकांत कुमार और रोहित प्रताप सिंह के साथ टोरी पोस्ट पर तैनात रेलवे सुरक्षा बलों की टीम द्वारा गश्ती अभियान चलाया गया। गश्ती टीम जब किमी 182/183 (1-3) के समीप पहुंची तो पाया कि कोयला लदी एक मालगाड़ी वहां ठहरी हुई है। जब वो थोड़ा आगे बढ़े तो उन्हें कुछ हलचल महसूस हुई। संदेह के आधार पर वो दबे पांव आगे बढ़े तो पाया कि तीन लोग रेलवे वैगन पर सवार कोयला उतार रहे हैं जबकि चार लोग नीचे गिरे कोयले को बोरियों में भरने में लगे हैं। उप निरीक्षक और आरपीएफ की टीम ने उन लोगो को दबोच लिया। रेलवे वैगन से कोयला उतार रहे धराए चोरों ने आरपीएफ को अपना नाम रविंद्र गंझू (पिता टोपो गंझू), अंतु गंझू (पिता छट्टू गंझू), सोमर गंझू (पिता मखरा गंझू), तथा बोरियों में कोयला समेटने वालों ने महेंद्र गंझू (पिता स्व. ंिबंदा गंझू), करण गंझू (पिता स्व. दिवाली गंझू), सुखदेव गंझू (पिता स्व. सुरेश गंझू), और राजेंद्र गंझू (पिता लक्ष्मण गंझू) सभी भंडारगढ़ा बताया। धराए चोरों ने स्वीकारोक्ति बयान में बताया कि लालचवश वो रात के अंधेरे में कोयला चोरी करते हैं। धराए चोरों की निशानदेही पर रेल पटरी के समीप गिरे कोयले के साथ पास की झाड़ियों में छिपाकर रखे लगभग पांच सौ किलोगाम कोयला जब्त कर धराए चोरों के साथ आरपीएफ पोस्ट टोरी लाया। टोरी पोस्ट पर आवश्यक कार्रवाई के बाद धराए अभियुक्तों को अग्रिम कानूनी कार्रवाई हेते रेलवे न्यायालय डालटनगंज अग्रसारित कर दिया गया। आरपीएफ इंसपेक्टर श्री तिवारी ने अपराधियों को चेताते हुए कहा है कि रेल संपति पर अपराध की नीयत रखनेवालेे बख्शे नहीं जाएंगे।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker