ताज़ान्यूज़राजनीतिराष्ट्रीय

लखीमपुर खीरी जा रहे राज्य के मंत्री, विधायक व कांग्रेसी नेताओं को सीमा पर यूपी पुलिस ने रोका

5 घंटे बाद गुरुवार की सुबह 7 बजे सीमा से वापस हुए मंत्री, विधायक व कांग्रेसी नेता

5 घंटे तक एनएच 75 पर आवागमन रहा बाधित, लंबी दूरी तक लगी गाड़ियों की काफिला

गढ़वा (झारखंड) : उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में अपने आला नेताओं का साथ देने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर के नेतृत्व में जा रहे राज्य के दो मंत्री व तीन विधायकों सहित दर्जनभर से ऊपर प्रदेश स्तरीय कांग्रेसी नेताओं को यूपी पुलिस ने विंढमगंज सीमा पर ही रोक दिया। यूपी प्रशासन द्वारा उत्तर प्रदेश सीमा में कांग्रेसी मंत्रियों, विधायकों व नेताओं को प्रवेश नहीं करने दिया। करीब 5 घंटे बाद मंत्री, विधायक व कांग्रेसी नेता उत्तर प्रदेश सरकार व प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए वापस हुए।

बताते चलें कि उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में किसानों की मौत के बाद अपने आला नेताओं का सहयोग करने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर के नेतृत्व में जा रहे राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता, कृषि पशुपालन एवं सहकारिता मंत्री बादल पत्रलेख, मांडर के विधायक सह कांग्रेश के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष बंधु तिर्की, रामगढ़ के विधायक ममता देवी, कोलेबिरा के विधायक नमन विक्सल कोंगाड़ी, महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्षा गुंजन सिंह, प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष शहजादा अनवर, राजीव रंजन प्रसाद, मानस सिन्हा, संजय लाल पासवान, अमूल्य नीरज खलखो, सतीश पाल, गंजनी, जयशंकर पाठक, कुमार राजा, जगदीश साहू, जिला अध्यक्ष मंजूर अंसारी, प्रमोद दुबे, जैश रंजन पाठक, गढ़वा जिला अध्यक्ष अरविंद तूफानी सहित अन्य कांग्रेसी नेता बुधवार की रात करीब 2 बजे जैसे ही झारखंड व उत्तर प्रदेश की सीमा विलासपुर पहुंचे वैसे ही यूपी पुलिस के द्वारा सीमा में प्रवेश करने से रोक दिया गया।

यूपी पुलिस को सूचना मिली थी कि झारखंड के मंत्री, विधायक सहित दर्जनभर से अधिक कांग्रेसी नेता लखीमपुर खीरी जाने के लिए विंढमगंज में यूपी सीमा में प्रवेश करेंगे। सूचना के आलोक में उत्तर प्रदेश पुलिस के द्वारा रात 11 बजे से ही सीमा को सील कर पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया था। यूपी पुलिस के समक्ष मंत्री विधायक व कांग्रेसी नेताओं की एक नहीं चली। मंत्री विधायक व कांग्रेसी नेता सड़क पर बैठ नारेबाजी व भाषणबाजी करने लगे। गुरुवार की सुबह 7 बजे सोनभद्र के अपर जिलाधिकारी राकेश सिंह सीमा पर पहुंचे और मंत्री विधायक को किसी भी कीमत पर सीमा में प्रवेश नहीं करने देने की बात कही। तब जाकर राज्य के लखीमपुर खीरी जा रहे मंत्री, विधायक व सभी कांग्रेसी नेता वापस हुए।

5 घंटे तक जाम रहा एनएच 75

राज्य के मंत्री, विधायक व कांग्रेसी नेताओं को उत्तर प्रदेश सीमा में प्रवेश करने की अनुमति नहीं मिलने पर सभी जनप्रतिनिधि राष्ट्रीय राजमार्ग 75 पर बैठकर जाम कर दिए। जिसके कारण बुधवार की रात 2 बजे से गुरुवार की सुबह 7 बजे तक राष्ट्रीय राजमार्ग 75 पर वाहनों का परिचालन बंद रहा। सुबह 7 बजे जब मंत्री, विधायक व कांग्रेसी नेता गण वापस हुए तब सड़क जाम हटा और एनएच पर आवागमन प्रारंभ हुआ। इस बीच राष्ट्रीय राजमार्ग 75 के दोनों तरफ लंबी दूरी की गाड़ियों का 2 किलोमीटर तक लंबी कतार लग गयी। सड़क के दोनों तरफ पटरी पर वाहन चालक अपनी अपनी वाहन खड़ा कर सड़क जाम हटने का

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker