ताज़ान्यूज़राजनीतिराष्ट्रीय

हजारीबाग : बानादाग साईडिंग में आंदोलनकारी रैयत और पुलिस में झड़प, डेढ़ दर्जन रैयत और एक दर्जन पुलिसकर्मी घायल

जमकर चले पत्थर, पुलिस ने वॉटर कैनन का किया प्रयोग, भांजी लाठियां

हजारीबाग (झारखण्ड) : गत पांच दिनों से 28 सूत्री मांगों को लेकर हजारीबाग के बानादाग साइडिंग में विस्थापित रैयत मोर्चा के अगुवाई में चल रहे अनिश्चितकालीन धरना रविवार को खूनी संघर्ष में बदल गया। किसी बात को लेकर हुई झड़प में पुलिस और रैयत के बीच जमकर पत्थर चले। जवाब मे पुलिस ने वॉटर कैनन का प्रयोग किया। पुलिस पर लाठीचार्ज करने का भी आरोप है।

पत्थरबाजी, लाठीचार्ज और भागम भाग में डेढ़ दर्जन रैयत को चोटे आई है, वही पेलावल इंस्पेक्टर सहित एक दर्जन पुलिसकर्मी भी घायल हो गए हैं। घायलों का मेडिकल कॉलेज अस्पताल में इलाज चल रहा है। वही मामूली रूप से घायल लोग और पुलिस कर्मियों को प्राथमिक इलाज के बाद मुक्त कर दिया गया है। पत्थरबाजी और लाठीचार्ज की घटना दिन दिन के 9:00 से 10:00 बजे की है। घटना के बाद पूरे क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गई। पूरा धरना स्थल पुलिस छावनी में तब्दील हो गया है।

जानकारी के मुताबिक किसी बाहरी को प्रवेश पर रोक लगाया गया है। धरना स्थल के समीप करीब डेढ़ सौ रैयत अभी भी बैठे हुए हैं। वहीं सूचना पर पहुंची बड़कागांव विधायक अंबा प्रसाद भी उनसे बातचीत कर रही है। पूरे घटना के बाद क्षेत्र में तनाव है। ज्ञात हो कि कोल्ड डंपिंग को लेकर दो गुटों में लगातार विवाद चल रहा है। समाजसेवी मुन्ना सिंह को इस मामले में कटकमदाग की पुलिस दो दिन पूर्व ही जेल भेज चुकी है। वहीं धरने को लेकर त्रिवेणी सैनिक, एनटीपीसी और मजिस्ट्रेट के द्वारा अलग-अलग प्राथमिकी भी दर्ज कराई गई है। समाचार लिखे जाने तक पुलिस के वरीय अधिकारी कैम्प किये हुए थे।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker